AI का प्रभाव Job Market पर

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (ए.आई.- AI) ने अलग-अलग उद्योगों में उत्साह (enthusiasm) और चिंता (concern) का स्रोत (source) बनाया है।

AI का कारण है कि यह बड़ी मात्रा में डेटा (data) को समझता है, पैटर्न (pattern) पहचानता है, और अपने आप निर्णय (decision) लेता है, जिससे कमाल के इनोवेशन्स (innovations) हुए हैं; लेकिन इस तकनीकी (technical) क्रांति से रोज़गार (employment) पर असर (impact) होने की चिंता भी है।

चलिए, असली जीवन के उदाहरणों (examples) से देखते हैं कि ए.आई (AI) ने रोज़गार की परिस्थिति (employment situation) को कैसे बदल दिया है और लोग इसके साथ समझौता (compromise) कैसे कर सकते हैं।

AI को समझना (understand) और उसका विकास (development)

AI में मशीन लर्निंग (machine learning), नेचुरल लैंग्वेज प्रोसेसिंग (natural language processing), रोबोटिक्स (robotics), और कंप्यूटर विजन (computer vision) जैसी तकनीकें (technologies) शामिल की जाती हैं,

जो मशीनों को ऐसे कार्य (tasks) करने की अनुमति देते हैं जो आम तौर पर मानव बुद्धिमत्ता (human intelligence) का होना ज़रूरी होता है।

AI के विकास (development)

समय के साथ, ए.आई. में बहुत तेज़ी (rapidly) से सुधार हुआ है। उदाहरण के लिए, टेस्ला और वेमो (Waymo) जैसी कंपनियां ने आत्मनिर्भर (self-driving) वाहन बनाए हैं,

जो सड़कों पर सफ़र (journey) करने, ट्रैफ़िक (traffic) सिग्नल्स को समझने, और निर्णय लेने में मानव हस्ताक्षर (human intervention) की ज़रूरत नहीं होने देते।

ए.आई (AI) का रोज़गार पर असर (impact on employment)

AI का उद्योग पर असर (impact on industries)

AI को उद्योगों में इस्तेमाल करने से रोज़गार पर विभिन्न प्रभाव पड़ते हैं। वाणिज्यिक (commercial) उद्योग में, AI-द्वारित चैटबॉट्स और वर्चुअल असिस्टेंट्स ने कुछ कस्टमर सर्विस (customer service) के किरदारों (roles) को बदल दिया है,

जो सवालों (queries) का जवाब (response) देते हैं, ऑर्डर करने में मदद (assistance) करते हैं, और व्यक्तिगत सुझाव (personalized recommendations) देते हैं।

AI -द्वारित ऑटोमेशन से घटने वाले जॉब्स (jobs)

खासकर ध्यान देने वाली बात है कि तकनीक और digitalization के कारण Secretarial roles में गिरावट देखी जा रही है; अंत में automation Secretaries, Cashiers और Clerks जैसे roles को बदल देगा और वेयरहाउस (warehouse) और लॉजिस्टिक्स (logistics) ऑपरेशन्स भी  AI से बदल गए हैं।

अमेज़न (Amazon) के फ़ुलफ़िलमेंट सेंटर्स (fulfillment centers) में AI -द्वारित रोबोट्स वेयरहाउस में सफर (travel) करके प्रोडक्ट्स (products) को निकाल कर ऑर्डर पूर्ण (complete) करते हैं, जिससे कार्यशीलता (efficiency) बढ़ती है, लेकिन इससे कुछ हाथ से काम करने वाले किरदार चले जाते हैं।

See also  Claude 2  जाने पूरी जानकारी Know About Claude 2

AI .-द्वारित  नौकरियों में सुधारने वाले अवसर (opportunities)

चिंताएँ (concerns) की वजह के बावजूद, ए.आई. नए अवसर भी पैदा करता है। उदाहरण के लिए, रोबो-एडवाइजर्स (robo-advisors) आपको आपके डेटा और बाजार के trends के आधार पर स्वयंसेवक (self-service) सहुलियातों (conveniences) की सुझाव (recommendations) देंगे, जिससे मानव वित्तीय सलाहकार (financial advisors) उनके क्लाइंट्स (clients) के लिए नए स्ट्रेटेजिक प्लानिंग (planning) में ध्यान दे सकते हैं।

कौशल बढ़ाने और दोबारा हाथ बदलने के अवसर (opportunities)

AI की शक्ति (capabilities) को समझना (understand)

रोज़गार मार्केट (job market) में महत्वपूर्ण (important) है कि व्यक्ति प्रयासपूर्वक रूप से (proactively) कौशल बढ़ाकर और दोबारा हाथ बदलकर (reskilling and upskilling) तैयार (prepared) रहें।

उदाहरण के लिए, डेटा एनालिस्ट (data analysts) डेटा अंतर्दृष्टि(insights)  सहारेनिर्णयों (decisions) के लिए AI/ML में कौशल बढ़ाकर अपने करियर (career) में आगे बढ़ सकते हैं।

AI -द्वारित रोज़गार मार्केट में रहने के लिए कैसे तैयार रहें (prepared)

सॉफ़्टवेयर डेवलपमेंट (software development) प्रोफेशनल्स (professionals) का एक उदाहरण है कि AI का डिस्रप्शन (disruption) जॉब लॉस (job loss) का मतलब नहीं है।

AI coding टास्क्स (tasks) को ऑटोमेट कर सकते हैं, लेकिन अगर डेवलपर्स AI  को अपनाते हैं तो उनके प्रोग्रामिंग कैपेबिलिटीज (capabilities) में सुधार हो सकता है, सॉफ़्टवेयर टेस्टिंग प्रोसेस (process) में सुधार हो सकता है, और डेवलपमेंट साइकिल (cycle) को छोटा किया जा सकता है।

2023-2028 में companies नए कर्मचारियों को भर्ती करते वक्त अधिकतर काम अनुभव पर ध्यान देंगे; अधिकतर नए नौकरी देने वाले कहेंगे कि उन्हें skills tests (47%) को university degrees (45%) के ऊपर अधिक प्राथमिकता है।

और इसके अलावा, लगभग 20% survey किए गए लोग तैयार थे ऐसे लोगों को रोजगार के लिए रखें जो छोटे training courses पूरा कर चुके थे या online certificates प्राप्त किए थे।

AI और नए रोज़गार के संकेत (indicators)

डिजिटलीकरण, technology और sustainability में हाल ही में काफी तेजी से रोजगार की वृद्धि देखी है। Renewable Energy engineers और Solar Energy engineers की demand बढ़ती जा रही है जबकि अधिक उद्योग नई तकनीक के तरफ बढ़ते हैं जो नई तकनीकों का उपयोग कर रहे हैं।

विशेष रूप से, यह साफ हो गया है कि Data Analysts और Scientists, Big Data Specialists, Business Intelligence Analysts, Database और Network Professionals और Data Engineers जैसे roles को 30-35% (1.4 million positions) की वृद्धि देखने को मिल सकती है। यह वृद्धि नई तकनीकों के कारण हो सकती है जो बड़े मात्रा में data पर निर्भर कर रहे हैं।

AI और Machine Learning specialists को भी 40% की प्रतीक्षा के साथ रोजगार की मांग में इजाफा देखने को मिल सकता है (1 million), जो AI/ML के मुख्य भाग होने की वजह से होगा।

AI का तेज़ी से विकास नए रोज़गार के किरदार (roles) का उद्गम कर रहा है।  AI एथिस्ट्स (ethicists) एक महत्वपूर्ण किरदार निभाते हैं, जिन्होंने यह ज़िम्मेदारी ली है कि AI तकनीकों को  सही तरीके से विकसित किया जाए और उसका उपयोग  सही रूप से हो, ताकि किसी को भी भेदभाव न हो और किसी को नुकसान न पहुंचे।

See also  Midjourney Know How To Use जाने पूरी जानकारी 

AI -द्वारित नए रोज़गार के अवसर (opportunities)

इसके अलावा, ए.आई. ने अनजाने क्षेत्रों में भी नए अवसर पैदा किए हैं। सोशल मीडिया मैनेजमेंट (management) पहले सिर्फ मानव द्वारा किया जाने वाला था, लेकिन अब AI-द्वारित सेंटिमेंट एनालिसिस (analysis) टूल्स (tools) ब्रैंडों को ग्राहकों के खयालों (perceptions) और trends को समझने में मदद करते हैं।

AI का रोज़गार मार्केट में  अच्छे विचार (ethical considerations)

AI. एल्गोरिदम्स (algorithms) में भेद-भाव (bias) का समाधान (solution)

AI बायस (bias) के हाल ही के उदाहरण दिखाते हैं कि इसका महत्वपूर्ण है। भर्ती प्रक्रिया (recruitment process) में AI एल्गोरिदम्स अनजाने में भी भेद-भाव को बढ़ावा (exacerbate) दे सकते हैं, जब वे पहले के नियुक्ति (hiring) डेटा में मौजूद भेद-भाव को आगे बढ़ाते हैं; इसलिए  AI मॉडल्स (models) को बेभेद (unbiased) को कम करने के लिए सुधार करना ज़रूरी है।

AI -द्वारित रोज़गार मार्केट में न्यायपूर्ण व्यवहार (fair practices) की ज़रूरत

कंपनियां ए.आई. के एथिक नीतियां (ethics policies) लागू करने की महत्वपूर्णता को समझ रही हैं। कुछ संगठन AI द्वारित टूल्स इस्तेमाल करते हैं जो उम्मीदवारों की जानकारी को अनजान बना देते हैं, ताकि उनके डेमोग्राफिक जानकारी पर आधारित भेद-भाव को कम किया जा सके।

AI और दूरसे काम (remote work) करने की संभावना (possibility)

कोविड-19 पैंडेमिक (pandemic) ने दूरसे काम की प्रचलनता (prevalence) को तेज़ कर दिया था, और ए.आई.-द्वारित कम्युनिकेशन टूल्स (communication tools) और प्रोजेक्ट मैनेजमेंट प्लैटफ़ॉर्म्स (platforms) दूरसे टीम्स (teams) के बीच सीमा-मुक्त (seamless) सुविधाओं (facilities) को संभव बनाते हैं।

AI -द्वारित दूरसे काम के लाभ (benefits) और समस्याएं (challenges)

AI दूरसे काम को आसान बनाने में मदद करती है, जबकि दूरसे काम के सेटअप (setup) में डेटा सुरक्षा (data security) और प्राइवेसी (privacy) से संबंधित कुछ चैलेंजेज (challenges) भी हैं, जिन्हें सावधानी से समझना चाहिए।

भविष्य के लिए तैयार होना: AI को अपनाना

सफलता प्राप्त ए.आई. इंटीग्रेशन (integration) के असली जीवन उदाहरण प्रकाशित करते हैं कि ए.आई. को साथी (companion) के रूप में अपनाना चाहिए, मानव कौशल्यों (human skills) का बढ़ावा करने के लिए इस्तेमाल करना चाहिए।

उदाहरण के लिए, स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र में AI.-द्वारित निदान (diagnosis) डॉक्टर्स को सही निदान देने में मदद करती है, लेकिन मानव वैद्यत्व (medical expertise) उनके लिए महत्वपूर्ण है जिन्होंने मुश्किल निदान को समझना है।

AI -द्वारित अवांसेस (advances) के लिए स्ट्रैटेजी (strategy)

AI  ने इंडस्ट्रीज (industries) जैसे मार्केटिंग (marketing) पर बहुत प्रभाव डाला है। ऑटोमेटेड मार्केटिंग टूल्स (tools) बिजनेसेज़ को ग्राहकों के व्यवहार (customer behavior) को समझने और व्यक्तिगत कैम्पेन्स (campaigns) बनाने में सहायक होते हैं।

जो मार्केटर्स ए.आई. की शक्ति को समझते हैं, उन्हें ये टूल्स बेहतर तरीके से इस्तेमाल करने में सफलता मिलती है।

सारांश Conclusion

AI  का जॉब मार्केट पर प्रभाव गहरा है, जिसमें सकारात्मक और नकारात्मक परिणाम दोनों हैं। असली जीवन के उदाहरणों से पता चलता है कि AI कुछ कार्य को ऑटोमेशन कर सकता है, जिससे कुछ जॉब्स चले जाते हैं, लेकिन ये नए रोज़गार के अवसर भी पैदा कर सकता है और लोगों को कौशल बढ़ाकर और परिवर्तन का सामना करने में मदद कर सकता है।

AI को एक सहायक साथी के रूप में अपनाने और उपयोग को बढ़ावा देना, तथा कौशल बढ़ाकर अपने लिए सफलता प्राप्त करने में लोग सफलता प्राप्त कर सकते हैं।

1 thought on “AI का प्रभाव Job Market पर”

  1. Pingback: Artificial Intеlligеncе, Quantum Computing और हमारा भविष्य - BUILDDTODAY

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top